Monday, October 23, 2017 Newslinecompact.com अपना होमपेज बनाएं |
newslinecompact Logo
banner add
महिला
पाना है ग्लो, तो रोजाना इतनी बार धोएं फेस
पाना है ग्लो, तो रोजाना इतनी बार धोएं फेसApr 03, 2016

गर्मियां आ गई हैं और अब त्वचा को खास देखभाल की जरूरत होती है। हम अपने चेहरे की त्वचा को लेकर हमेशा परेशान रहते है की हम क्या करें जिससे हमारा चेहरा बेदाग रहें। हमारी त्वचा बेहद कोमल होती है।

स्लीप एप्निया बढ़ा सकती है डायबिटीज और हार्ट की प्रॉब्लम
स्लीप एप्निया बढ़ा सकती है डायबिटीज और हार्ट की प्रॉब्लमNov 18, 2015

जब सोते वक्त जीभ के मसल्स और ऊपर सांस की नली आराम करने लगती हैं तो इस वजह से उस नली में कभी-कभी रूककर तो कभी पूरी तरह से प्रॉब्लम होने लगती है।

अकेले पिता की तुलना में अकेली मां को सताती हैं ज्यादा मुश्किलें
अकेले पिता की तुलना में अकेली मां को सताती हैं ज्यादा मुश्किलेंSep 08, 2015

अमेरिका के शिकागो में यूनिवर्सिटी ऑफ इल्लीनोइस में पारिवारिक अध्ययन के सहायक प्रोफेसर कारेन क्रैमर ने कहा, अकेली मां की आय अकेले पिता के आय की दो तिहाई के बराबर होती है।

किसी से प्यार हो गया है कैसे जीतें दिल!
किसी से प्यार हो गया है कैसे जीतें दिल!Sep 08, 2015

कॉलेज जाने वाले 72 विद्यार्थियों के मनोवैज्ञानिक एवं शारीरिक विश्लेषण के जरिए किए गए अध्ययन में डेनिस और सह-लेखक टेलर एम वेल्स ने पाया कि वॉयस मेल की तुलना में प्रेम की अभिव्यक्ति के लिए ई-मेल भेजने वाले लोगों ने अधिक प्रभावशाली भाषा का प्रयोग किया।

तीखी मिर्च खाएं, मोटापे को दूर भगाएं
तीखी मिर्च खाएं, मोटापे को दूर भगाएंSep 08, 2015

एडिलेड विश्वविद्यालय के शोधार्थियों ने खोज की है कि अधिक वसायुक्त भोजन पेट की उन संग्रहिकाओं को खराब कर देता है जो पेट भर जाने का संकेत देती हैं।

महिलाओं की योनि में खुजली के कुछ प्रमुख कारण
महिलाओं की योनि में खुजली के कुछ प्रमुख कारणSep 08, 2015

यह एक कष्टप्रद समस्या है जिसका समय रहते इलाज बेहद जरूरी होती है। यह महिलाओं के लिए एक चिंताजनक समस्या है, खासकर अगर यह जीर्ण (क्रोनिक) रूप में होती है, और यह बहुत बड़ी असुविधा का कारण बन सकती है।

साबुन में मौजूद तत्वों से गर्भपात का खतरा
साबुन में मौजूद तत्वों से गर्भपात का खतराSep 08, 2015

चीन में बीजिंग की पेकिंग यूनिवर्सिटी में 300 से अधिक महिलाओं पर किए गए एक नए अध्ययन में शोधकर्ताओं ने पाया कि कुछ फैथलेट्स जिनका प्रयोग दैनिक इस्तेमाल की चीजों में किया जाता है, उनका गर्भपात से संबंध हो सकता है जो कि अधिकांश गर्भावस्था के 5 से 13 हफ्तों में होता है।