Monday, October 23, 2017 Newslinecompact.com अपना होमपेज बनाएं |
newslinecompact Logo
banner add
फीचर
कैसे पटाएं अपने पसंद की लड़की को
कैसे पटाएं अपने पसंद की लड़की कोSep 18, 2016

अधिकतर लड़कों को पता ही नहीं होता है कि अपनी पसंद की लड़की से कैसे बात शुरु करनी चाहिये। दोस्‍तों, लड़की पटाने में रॉकेट सांइस की जरुरत नहीं पड़ती बल्‍कि सही से बात करने का तरीका आना चाहिये।

विश्व मानचित्र पर भारतीय संस्कृति की छाप : मुजफ्फर हुसैन
विश्व मानचित्र पर भारतीय संस्कृति की छाप : मुजफ्फर हुसैनAug 29, 2016

किसी देश का राजनीतिक विभाजन न तो उसकी दृढ़ता और न ही उसकी एकता का परिचायक हो सकता है। सांस्कृतिक भारत की नदियां हिमालय से निकलती थी और हिंद महासागर के अरब सागर और बंगाल की खाड़ी में गिरा करती थी।

देवभूमि के इस गांव में हनुमान को समझा जाता है दुश्मन, नहीं होती है पूजा क्यों...?
देवभूमि के इस गांव में हनुमान को समझा जाता है दुश्मन, नहीं होती है पूजा क्यों...?Aug 23, 2016

मंगलवार का दिन संकटमोचन हनुमान को समर्पित है. हमें बचपन से ही सिखाया जाता रहा है कि बुरे वक्त में हनुमान को याद करें. कहते भी हैं कि भगवान श्रीराम के परम भक्त हनुमान का नाम लेने भर से ही तमाम कष्ट दूर हो जाते हैं.

मातृत्व लाभ अधिनियम में बदलाव, कामकाजी माँओं के आए अच्छे दिन!
मातृत्व लाभ अधिनियम में बदलाव, कामकाजी माँओं के आए अच्छे दिन!Aug 21, 2016

इसमें कामकाजी महिलाओं को मां बनने पर 26 सप्ताह की छुट्टी देने का प्रावधान किया गया है। पहले यह सीमा १२ सप्ताह थी। इस अधिनियम में संशोधन से उस मां को राहत मिलेगी, जो अपने बच्चे के लिए अपने करियर के सभी सपनों को कुर्बान करने कर देती है। अब महिलाओं को ऐसी कुर्बानी नहीं देनी पड़ेगी।

हर लड़की किसी की बहन है, तो फिर.....
हर लड़की किसी की बहन है, तो फिर.....Aug 18, 2016

क्या हम इसका महत्व सच में समझते है। अगर हां तो क्यों हम अपनी बहन और पडोस में रहने वाली, सहपाठी, सहकर्मी में अंतर कर देते है। खैंर अंतर करना भी ठीक है लेकिन इतना बढा अंतर कहां तक ठीक है साहब। खुद तो छुट्टी के दिन घुमने के लिए आप अपनी साथी को बुलाते है और हरसंभव प्रयास करते है कि वह आये लेकिन घर में बहन बोले कि आज दोस्तों के साथ बाहर घुमने जाना है तो लग जाते है सवालों की झडी लगाने।

जेटली का पाकिस्‍तान न जाना, कितना सही : डॉ. मयंक चतुर्वेदी
जेटली का पाकिस्‍तान न जाना, कितना सही : डॉ. मयंक चतुर्वेदीAug 17, 2016

यदि सार्क संगठन के इतिहास को देखें तो 1970 के दशक में बांग्लादेश के तत्कालीन राष्ट्रपति जियाउर रहमान ने दक्षिण एशियाई देशों के एक व्यापार गुट के गठन का प्रस्ताव किया था, जिसके बाद मई 1980 में दक्षिण एशिया में क्षेत्रीय सहयोग का विचार फिर सामने आया।

जहाँ डाल-डाल पर सोने की चिड़ियाँ करती हैं बसेरा ,वो भारत देश है मेरा.....
जहाँ डाल-डाल पर सोने की चिड़ियाँ करती हैं बसेरा ,वो भारत देश है मेरा.....Aug 15, 2016

भारत विश्व का सबसे बड़ा लोकत्रांतिक गणराज्य है ,पर लोकत्रांतिक तरीके से चलने वाले भारत में आज राजनितिक दशा की अभिव्यक्ति भी लोकतंत्र के “मंदिर” में देखने को मिल ही जाता है। स्वाधीनता दिवस के पूर्ण संध्या पर राष्ट्र के नाम अपने सन्देश में राष्ट्रपति ने यह कहकर जन भावनाओं को ही अभिव्यक्त किया की ” संसद चर्चा के बजाय लड़ाई का मैदान बन गयी है।

राग से ही बढ़ता है संसार: विराग सागर
राग से ही बढ़ता है संसार: विराग सागरAug 08, 2016

भगवान महावीर स्वामी ने अपनी दिव्य देशना में कोई कविता, मुक्तक या दोहे नहीं कहे, हास्य व्यंग्य के कार्यक्रम नहीं किए, उन्होंने प्राणीमात्र को मोक्षमार्ग पर चलने का उनके हित का ही उपदेश दिया जिनेन्द्र देव ने अपनी वाणी मे छह द्रव्यों सात तत्वों को अपने उपदेश मे बताया उसी को हम सभी ने यहां समझा है।

कौन जाने, किसको पता आखिर क्या चाहती है महिलाएं....
कौन जाने, किसको पता आखिर क्या चाहती है महिलाएं....Jul 30, 2016

नारी.. यह शब्द सुनते हीं हमारे मन में एक अलग तरह का ख्याल और तस्वीर ऊभर कर आती है। भारतीय समाज, परंपरा, रीति रिवाज और महिलाओं के खिलाफ कुछ जानबुझकर उत्पन्न किये गये हालातों को ध्यान में केंद्रित करें तो हमें महिलाओं के बहुत से रूप देखने को मिलेंगे। वैसे यह भी बात अनादि काल से सत्य है कि महिलाओं को आजतक किसी ने समझ नहीं पाया है। वेद, शास्त्र, पुराण, कुरान, बाईबल या अन्य किसी धर्म ग्रंथ की बात करें तो सबने औरतों के बारे में एक जैसा लिखा है, उनके विभिन्न रूपों को दर्शाया है और उनके विभिन्न चरित्रों को समझाने का प्रयास किया है।

कैसे बचा सकते हैं आप अपने मोबाइल की बैटरी
कैसे बचा सकते हैं आप अपने मोबाइल की बैटरीJul 29, 2016

मोबाइल फ़ोन यूजर की सबसे बड़ी टेंशन यह रहती है की उनकी बैटरी खत्म न हो जाए। इसलिए कुछ लोग अपने साथ चार्जर लेकर घूमते है और कुछ लोग पावरबैंक। आप आसान से तरीके अपनाकर अपने फ़ोन की बैटरी को जल्दी ख़त्म होने से बचा सकते है-

पाना है ग्लो, तो रोजाना इतनी बार धोएं फेसपाना है ग्लो, तो रोजाना इतनी बार धोएं फेस
गर्मियां आ गई हैं और अब त्वचा को खास देखभाल की जरूरत होती है। हम अपने चेहरे की त्वचा को लेकर हमेशा परेशान रहते है की हम क्या करें जिससे हमारा चेहरा बेदाग रहें। हमारी त्वचा बेहद कोमल होती है।

स्लीप एप्निया बढ़ा सकती है डायबिटीज और हार्ट की प्रॉब्लम

अकेले पिता की तुलना में अकेली मां को सताती हैं ज्यादा मुश्किलें

किसी से प्यार हो गया है कैसे जीतें दिल!

हम हैं युवा “शक्ति”हम हैं युवा “शक्ति”
आज की युवा पीढ़ी अब आधुनिकरण की चोला पहनकर सामाजिक समरसता को देख रहा है। आज की दूरदर्शन संसकृति ने युवा पीढ़ी को अपनी ओर बहुत तेज गति से आकर्षित किया है और अपनी माया जाल में इस कदर उलझाया दिया है कि वह सभ्य और असभ्य की परिभाष भी भूल चुका है।

वजन कम करने के लिए खाएं तुलसी और हरा धनिया, 5 घरेलू नुस्खे