Monday, October 23, 2017 Newslinecompact.com अपना होमपेज बनाएं |
newslinecompact Logo
banner add
देश
Publish Date: Sep 17, 2016
नवाज अकबर खान बुगती के पौत्र ब्रह्मदाग बुगती भारतीय नागरिकता लेने के लिए हैं तैयार, कहा- मौका मिला तो भारत में रहना पसंद करूंगा
title=

 नई दिल्ली। पाकिस्तान में मानवाधिकारों के उल्लंघन का मुद्दा जोरशोर से उठाने वाले नेता बलूच ब्रह्मदाग बुगती ने भारतीय नागरिकता लेने की बात कहकर एक बार फिर से बलूचिस्तान के मुद्दे को गर्मा दिया है। जिस बलूचिस्तान में पाकिस्तान सेना के दम पर वहां के लोगों की आवाज दबाने की कोशिश में जुटा है उसी इलाके के नेता ने भारत की नागरिकता स्वीकार करने की बात कहकर पाकिस्तान को आइना दिखाने का काम किया है। एक अंग्रेजी दैनिक के अनुसार, बुगती ने कहा है कि अगर उन्हें भारत का नागरिक बनने का मौका मिला तो वह निश्चित रूप से भारत में ही रहना चाहेंगे। खबरों में कहा गया कि बुगती भारतीय नागरिकता लेने की कोशिश में हैं। उन्होंने पूरी तरह से साफ कर दिया है कि वह भारत की नागरिकता स्वीकार करने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं।  हालांकि बलूच नेता ब्रह्मदाग बुगती के भारत में शरण मांगने की खबरों के बीच विदेश मंत्रालय ने शुक्रवार को कहा कि उसके पास इस बारे में कोई सूचना नहीं है। बुगती के बारे में पूछे जाने पर विदेश मंत्रालय के एक सूत्र ने बताया कि मंत्रालय के पास इस तरह की सूचना नहीं है। मीडिया में ऐसी खबरें हैं कि नवाज अकबर खान बुगती के पौत्र ब्रह्मदाग बुगती भारतीय नागरिकता हासिल करने को तैयार हैं। फिलहाल वह निर्वासन में स्विट्जरलैंड में रह रहे हैं। वह बलूचिस्तान में पाकिस्तान के मानवाधिकार उल्लंघन के मुद्दे को जोरशोर से उठाते रहे हैं।

  • Post a comment
  • Name *
  • Email address *

  • Comments *
  • Security Code *
  • captcha
  •       
    कमेंट्स कैसे लिखें !
    जिन पाठकों को हिन्दी में टाइप करना आता है, वे युनीकोड मंगल फोंट एक्टिव कर हिन्दी में सीधे टाइप कर सकते हैं। जिन्हें हिन्दी में टाइप करना नहीं आता वे Roman Hindi यानी कीबोर्ड के अंग्रेजी अक्षरों की मदद से भी हिन्दी में टाइप कर सकते हैं। उदाहरण के लिए यदि आप लिखना चाहें- “भारत डिफेंस कवच एक उपयोगी पोर्टल है’, तो अंग्रेजी कीबोर्ड से टाइप करें,हर शब्द के बाद स्पेस बार दबाएंगे तो अंग्रेजी का अक्षर हिन्दी में टाइप होता चला जाएगा। यदि आप अंग्रेजी में अपने विचार टाइप करना चाहें तो वह विकल्प भी है।